कैसे बनाये अपने इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) को मजबूत ?(How to strengthen your immune system?)

immune system

How to strengthen your immune system?

  • कैसे बनाये अपने इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system को मजबूत?
  • मेरा इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system कैसे सही होगा?
  • क्या खाये जिस से मेरा इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system सही काम करने लगे ?
  • आखिर ये इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system होता क्या है? इसका हमारे और हमारे शरीर के लिया क्या महत्व है ?

क्या आज कल आपके दिमाग में यही सब सवाल बार बार आ रहें है ? जरूर आ रहे होंगे। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते जब सभी को पता चलने लगा कि इस की कोई दवा नहीं है और अब तो बस आपका इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system ही आपको इस से बचा सकता है तो सभी को भगवान् की दी हुई इस व्यवस्था जो हमें रोगो से बचाती है कि याद आने लगी। वैसे भी हम भारतीयों की आदत है जब तब बात जान पर ना बन आये हम जागते नहीं है समझते नहीं है।

इम्यून सिस्टम (immune system) शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली है जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखती है और बाहरी संक्रमण और रोगाणुओं को नष्ट करने का कार्य करती है। यह रक्त में श्वेत रक्त कौशिकाएं, एंटीबॉडी, लसीका प्रणाली, तिल्ली, पूरक प्रणाली, थाइमस और अस्थि मज्जा सभी का सयुंक्त योगदान होता है।

जब इंसान इस धरती पर आये थे तो भगवान ने ये व्यवस्था साथ में दी थी। जानें कितने सालों तक हम बिना किसी दवाईओ के सही रहें। वायरस, जीवाणु इत्यादि सब यही मौजूद थे लेकिन हमारा इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system हमें बचाए रखता था।

धीरे-धीरे हम विकसित होते गए नयी नयी खोज करते गए। प्रकर्ति से छेड़-छाड़ करने लगे। प्राकर्तिक खान पान में साइंस लगाने लगें। Hybrid Seeds और GMOs की तकनीक से फसले उगाने लगें। फ़ास्ट फ़ूड खाने लगें। इन सब के चलते हम अस्वस्थ (unhealthy) हो गए। हमने जाने अनजाने में अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर कर दिया। आपने खुद भी ये बात महसूस की होगी कि जरा सा मौसम बदलता है आप को कुछ न कुछ बीमारी लग जाती है अब चाहे वो जुखाम हो हल्की खासी हो या बुखार हो। और अब ये वायरल इन्फेक्शन्स। इन सब का कारण Immune System(प्रतिरक्षा प्रणाली) का कमजोर होना ही है।

हमारा Immune System(प्रतिरक्षा प्रणाली) किन-किन कारणों से कमजोर होता है अगर मैं इसके बारे में बताने लगा तो ये लेख बहुत बड़ा हो जायेगा। फ़ास्ट-फ़ूड, धूम्रपान, मदिरापान, ज्यादा तला हुआ या तीखा खाना, व्यायाम नहीं करना, बहुत ज्यादा दवाई का प्रयोग करना, एंटीबायोटिक्स का प्रयोग, समय पर नहीं खाना, समय पर नहीं सोना, तनाव, चिंता में रहना, घर का भोजन छोड़ बाहर का खाना, प्राकृतिक खाद्य संसाधन जैसे फल, सब्जिया, जड़ी-बूटियों का प्रयोग नहीं करना इत्यादि कारणों से हमारी Immune System(प्रतिरक्षा प्रणाली) कमजोर हो जाती है।

इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) को मजबूत कैसे करें

    1. विटामिन-सी (vitamin-c):- विटामिन-सी का हमारे इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immunity को मजबूत बनाने में बहुत बड़ा हाथ है। हमें लगभग 200mg (0.2 gm) विटामिन-सी प्रतिदिन लेना ही है। ये हमे प्राकर्तिक खाद्य संसाधन जैसे 2 संतरे या 1 बड़ा अमरुद या 4-5 टमाटर प्रतिदिन खा कर पूरा करना है। और अगर इसको और आसान करें तो कोई भी 4 फल कम से कम 400 gm प्रतिदिन खाने है। एक बात पर विशेष ध्यान दें ये हमें किसी सुप्प्लिमेंट या गोलियों से नहीं लेना है।
    2. धूप स्नान:- भगवान कहो या कुदरत या प्रकर्ति ने वो सब दिया है जो हमें रोगों से बचाते हैं। आज की भाग दौड़ की जिन्दगी में बहुत सी ऐसी आदतें है जो हम बिलकुल छोड़ चुके है। क्या आप जानते है कि सूरज की किरणों में अनेक बीमारियों के कीटाणुओं को नष्ट करने की शक्ति होती है। धूप के अभाव में त्वचा पर हानिकारक विजातीय तत्वों की एक परत सी जम जाती है जो शरीर में कई प्रकार के रोग उत्पन्न कर सकती है। साथ ही ये हमारी इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system को मजबूत करती है। इसलिए प्रतिदिन कम से कम 30 min धूप स्नान जरूर करें।
    3. व्यायाम:- अगर आप चाहते है कि आप बीमार ना पड़े तो व्यायाम को अपनी प्रतिदिन की दिनचर्या का हिस्सा बना लें। व्यायाम करने से आपके शरीर का रक्त परवाह अच्छे से होता है जिसकी मदद से आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। ये सिद्ध भी हो चूका है कि व्यायाम करने वालो की तुलना में व्यायाम ना करने वाले जल्दी से बीमार होते है।
    4. आमला:- जैसा की मैंने सबसे पहले बताया था कि विटामिन-सी हमारे इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immunity को मजबूत बनाने के लिए बहुत जरुरी है और आमला तो इसका भण्डार है। बताया जाता है कि 20 संतरो में जितना विटामिन-सी होता है उतना सिर्फ 1 अमले में होता है। मतलब जब तक आपको कच्चा आमला मिले प्रतिदिन एक आमला जरूर खाए और अगर न मिले तो सबसे पहले बताये गए नियम का पालन करें। अमले का जूस भी पी सकते है।
    5. जड़ी-बूटी का प्रयोग:- अगर आपको लगता है कि आपकी इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) बहुत ज्यादा कमजोर हो चूका है तो आप कुछ जड़ी बूटियों का भी प्रयोग कर सकते है जैसे अश्वगंधा के चूर्ण को प्रतिदिन एक गिलास दूध या गरम पानी के साथ सेवन करने से आपकी इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) सुधर जाएगी। एक और जड़ी-बूटी इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system को बहुत मजबूत बनती है वो है गिलोय, अमृत के समान गुणकारी होने से आयुर्वेद में इसका नाम अमृता है। इसके बार्रे में जितना लिखा जाए कम है। आयुर्वेद में इसे ज्वर की महान औषधि माना गया है एवं जीवन्तिका नाम दिया गया है। इसकी एक और ख़ास बात है कि ये जिस वृक्ष को यह अपना आधार बनाती है यानि जिसके सहारे चलती है (क्योकि ये एक बेल है ), उसके गुण भी इसमें समाहित रहते हैं। इसलिए नीम पर चढ़ी गिलोय श्रेष्ठ औषधि मानी जाती है। इसके पत्तो या इसके तने से टहनी से कुछ लेकर पानी में उबाल कर पिया जाता है अगर आपके आस-पास ये ना हो तो बाजार में इसका भी पाउडर (चूर्ण) रूप मिलता है रस भी मिलता है उसका प्रयोग कर सकते है।
    6. तनाव से बचें:-  आपके इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system को सबसे ज्यादा नुकसान पहुँचता है आपका मानसिक तनाव (stress)। आपके स्वास्थ्य (Health) और तनाव (stress) का एक दूसरे से सीधा-सीधा संबंध है। जितना हो सकें अपने को तनाव से बचाए। इसके बारे में और जानने के लिए आप हमारा लेख तनाव (stress) से होने वाली बीमारियां और उनसे बचने के उपाय भी पढ़ सकते हैं।
    7. शाकाहार अपनाये:- आप क्या खाये या क्या नहीं ये आपको तय करना है। देखा ये गया है कि अगर आप पशुओ से मिलने वाले आहार के मुकाबले प्रकर्ति से मिलने वाले आहार जैसे सब्जियाँ, हरी पत्ते वाली सब्जियाँ,  फल इत्यादि का ज्यादा उपयोग करते है तो आपका इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) immune system जल्दी से कमजोर नहीं होता है। इसका सीधा सा तर्क है शाकाहार भोजन माँसाहार भोजन की तुलना में जल्दी पचता है तो जीवन शक्ति या इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) को समय मिलता है कि वो शरीर की और ध्यान दें ना की पूरा समय खाने को पचने में ही लगा रहें । अगर आप पूरी तरह से शाकाहार नहीं बन सकते तो अपने खाने में शाकाहार भोजन की मात्रा तो बढ़ा ही सकतें है।
    8. बुरी आदतें छोड़े:- नशे से दूर रहें, समय से सोये, कम से कम 7-8 घंटे की नींद लें, फ़ास्ट-फ़ूड बिलकुल कम कर दे और अगर हो सकें तो छोड़ दें, घर का खाना खाये, चाय छोड़कर ग्रीन टी पीना शुरू करें, चीनी का ना के बराबर उपयोग करें।

आशा करता हूँ मेरा ये लेख पढ़कर और इन तरीको को ईस्तमाल करके आप अपने रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity) को मजबूत बनाएंगे और भविष्य में कोरोना वायरस (coronavirus) जैसे बीमारियों से बचे रहेंगे।

1 Comments

Leave a Comment.